आप यहाँ पर हैं
होम > इंडिया (India) > प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कैमरे के बीच आना केंद्रीय मंत्री को पड़ा भारी, देखिये वीडियो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कैमरे के बीच आना केंद्रीय मंत्री को पड़ा भारी, देखिये वीडियो

हम आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कैमरे से काफी लगाव है। यह आरोप उन पर आलोचक लंबे समय से लगाते रहे हैं। उनके मुताबिक, पीएम कैमरे के सामने हमेशा आगे रहते हैं। अगर कोई बीच में आता है, तो वह उसे किनारे कर देते हैं या पीछे करा देते हैं। बुधवार को पीएम के आलोचकों की ओर से एक इसी तरह का वीडियो साझा किया गया।

narendra modi नरेंद्र मोदी love camera

 

वह इसमें केंद्रीय मंत्री के.जे अल्फोंस के साथ हैं। केंद्रीय मंत्री एकदम से कैमरे के फ्रेम में बीच में आ जाते हैं, जिसके बाद पीएम अपने सिक्योरिटी गार्ड्स से उन्हें पीछे करा देते हैं। घटना से जुड़ा वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। बता दें कि यह पहला मौका नहीं है, जब पीएम से जुड़ा इस तरह का वीडियो सामने आया है।

नवंबर में हैदराबाद में हुई ग्लोबल समिट के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी और सलाहकार इवांका ट्रंप के दौरे के वक्त भी कुछ ऐसा ही वाकया देखने को मिला था। पीएम का ताजा वीडियो फेसबुक पर ‘आइरनी ऑफ इंडिया’ नाम के अकाउंट से पोस्ट किया गया। यह असल में स्पूफ वीडियो था। पीएम इसमें फेंस के पास खड़े होते हैं।

केंद्रीय पर्यटन मंत्री के.जे अल्फोंस भी इस दौरान उनके साथ होते हैं। अगल-बगल पीएम के सिक्योरिटी गार्ड्स भी होते हैं। फेंस के दूसरी ओर आम लोग खड़े होते हैं। पीएम और केंद्रीय मंत्री इस दौरान उनसे बातचीत कर रहे होते हैं। अचानक से अल्फोंस कैमरे के फ्रेम में बीच में आते हैं, जिसके बाद सिक्योरिटी मंत्री को पीछे से बुलाता है। वह उन्हें कैमरे के आगे से हटने को कहता है, जिसके बाद वह पीएम के पीछे जाकर खड़े हो गए।

इवांका ट्रंप जब भारत आई थीं, तब भी पीएम को लेकर कुछ ऐसे ही पुराने वीडियो वायरल हुए थे। 29 नवंबर को ‘हिस्ट्री ऑफ इंडिया’ नाम के टि्वटर हैंडल पर इसी बाबत ट्वीट किया गया था। उसमें लिखा था, “आपका टूर गाइड ऐतिहासिक तथ्य बता रहा है। लेकिन आपको तो सिर्फ कैमरे से प्यार है।” साथ ही पीएम से जुड़ा यह वीडियो भी इस ट्वीट में शामिल था।

वीडियो में पीएम नरेंद्र मोदी और इवांका साथ में खड़े होते हैं। उन्हें टूर गाइड ऐतिहासिक चीजों के बारे में जानकारियां दे रहा होता है। इवांका उसकी बातें ध्यान से सुन रही होती हैं। जबकि, पीएम की नजरें कैमरे की ओर होती हैं। अचानक वे उस शख्स को इशारा कर के अपने बगल में आने के लिए कहते हैं। पीएम के इशारे के बाद वह फौरन उन्हीं के बगल में आकर वे तथ्य बताने लगता है।

 

Leave a Reply

Top