आप यहाँ पर हैं
होम > इंडिया (India) > वीडियो: लाइव डिबेट के दौरान संबित पात्रा ने बोल दिया इतना बड़ा झूठ कि जनता ने जमकर लगाई फटकार

वीडियो: लाइव डिबेट के दौरान संबित पात्रा ने बोल दिया इतना बड़ा झूठ कि जनता ने जमकर लगाई फटकार

जैसा कि आप सब जानते हैं कि तेल की कीमतों में सरकार द्वारा दी गई राहत धीरे-धीरे फीकी होती नजर आ रही है। हम आपको बता दें कि इसकी वजह है रोजाना हो रही कीमतों में वृद्धि।

sambit patra संबित पात्रा caught lying

हफ्ते के पहले दिन सोमवार को पेट्रोल और डीजल के दाम फिर बढ़े हैं। इस तरह तेल का महंगा होना लगातार तीसरे दिन जारी रहा है। सोमवार को पेट्रोल की कीमत में 0.21 पैसे और डीजल की कीमतों में 0.29 पैसे तक की बढ़ोतरी हुई है।

बढ़ोतरी के बाद पेट्रोल की कीमत दिल्ली में 82.03, मुंबई 87.50, चेन्नै में 85.26, जयपुर 82.60 और कोलकाता 83.87 रुपये हो गई। वहीं अब डीजल दिल्ली में 73.82, मुंबई 77.37, चेन्नै 78.04, जयपुर 76.23 और कोलकाता में 75.67 रुपये हो गई है।

बता दें कि केंद्र सरकार ने गुरुवार को तेल की कीमतों में 2.50 रुपये तक की राहत का ऐलान किया था, जिसके बाद कई राज्यों ने भी अपनी ओर से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कमी का ऐलान किया था। केंद्र और राज्यों के इस फैसले के बाद देशभर में तेल की कीमतों में न्यूनतम 2.50 रुपये और अधिकतम 5 रुपये तक की गिरावट दर्ज की गई थी।

इसके अगले दिन शुक्रवार को पेट्रोल-डीजल के दामों में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई थी। फिर शनिवार और रविवार को दाम फिर बढ़ गए थे।

आज तक की डिबेट पर रोहित सरदाना ने भी फिर मोदी सरकार पर निशा!ना साधते हुए कहा कि, केंद्र सरकार ने ढाई रूपये की राहत दी और कई राज्यों ने भी ढाई रूपये की राहत दी। लेकिन क्या 5 रूपये की राहत जनता के लिए काफी है।

सरदाना ने बताया कि, विपक्ष बता रही है कि, जो सरकार ने पांच रूपये की राहत देने की कोशिश की है वो असल में चुनावी राहत है। क्योंकि सामने राज्यों में चुनाव सामने हैं इसलिए मजबूरन सरकार को ऐसा फैसला लेना पड़ा है।

विपक्ष इसको चुना!वी झुनझुना बता रही है। सरदाना ने अपने दंगल में मोदी सरकार से सीधा सवाल पूछा कि क्या पांच रूपये के नोट से मिल जायेगा वोट? सामने चार राज्यों के चुनाव है इसलिए तेल के दाम घटा!ए गए हैं? तेल पर ढाई रूपये की राहत ऊँट के मुंह में जीरा है? तेल पर क्या बीजेपी वाले राज्य राहत देंगे? क्या देशहित में तेल की राजनीति भारी है?

राजीव त्यागी ने पेट्रोल को लेकर संबित पात्रा से कई सवाल किये। जिसमें से उन्होंने बता!या कि, जब कांग्रेस सरका!र थी तब अंतराष्ट्रीय मार्किट में तब क्रूड आयल 160 डॉलर प्रति बेरल हुआ करता था। उस समय 71 रूपये पेट्रोल की कीमत हुआ करती थी और डीजल की कीमत 55 रूपये थी। आज के समय में 85 डॉलर प्रति बेरल है।

देखें वीडियो:-

राजीव त्यागी ने कांग्रेस और मोदी सरकार के तेल आंकड़ों को बताकर संबित पात्रा की बोलती बंद कर दी। राजीव त्यागी ने बताया कि, अंतराष्ट्रीय मार्किट में कांग्रेस सरकार के मुकाबले में प्रति बेरल सस्ता होने के बा!वजूद भी मोदी सरकार इतना महंगा तेल दे रही है कि, जनता की कमर तोड़ दी है। पेट्रोल डीजल के अलावा राजीव त्यागी ने मिट्टी के तेल को लेकर भी मोदी सरकार को लपेटा।

बताया कि, कांग्रेस सरकार और मोदी सरकार में कितना फर्क आ गया। अंतराष्ट्रीय मार्केट में कच्चे तेल की कीमते नीचे जा रही थी। मोदी जी ने कहा था कि, आपको नसीब वाला प्रधानमन्त्री मिला है। लेकिन आपने जनता का क्या नसीब बनाया ये बता दीजिये। राजीव त्यागी ने सवाल करते हुए बताया कि, जब अंतराष्ट्रीय मार्केट में कच्चे तेल की कीमते कम हो गई तो आपने जनता को सस्ता क्यों नहीं दिया ये बता दीजिये।

Leave a Reply

Top